इमरान का पंप और नवजोत सिधु के गैसी गुबारे की फुलावट

कौन सिद्धू ?

सोनिया के चरणों में गिर कर अपने भाषणों की माफी मांगता हुआ सिद्धू

नवजोत सिध्धु ने अपने तेलंगना चुनाव प्रचार के दौरे के दौरान एक प्रेस कॉंफ्रेंस में सीएम कैप्टन के बारे में पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में पहले तो मूंह बनाकर नकली हैरानी जताकर कहा, कौन कैप्टन? फिर जब पत्रकारों ने सीएम का पूरा नाम लिया तो वह “बोले ओ कैप्टन अमरेंद्र सिंह! आगे वह बोले वह तो फौज के कैप्टन हैं। मेरे कैप्टन तो राहुल गांधी हैं। कपिल शर्मा के शो के मसखरे सिद्धू का ये व्यवहार कहीं उसके दिमाग में हुए कैमिकल लोचे की तरफ इशारा तो नहीं ?
नवजोत सिद्धू के दिमाग के टायरों में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और उसकी जुंडली ने इस बुरी तरह हवा भर डाली है कि अब नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने पिता समान कैप्टन अमरिंदर सिंह को टीज़ करना शुरू कर दिया है और पंजाब से बाहर के राज्यों में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बचकाना ढंग से कैप्टन अमरिंदर सिंह का मजाक उड़ाना शुरू कर दिया है। जिस बेइज्जती बड़े ढंग से नवजोत सिद्धू ने पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में कैप्टन के बारे में बकवास की है उससे नवजोत सिद्धू के दिमाग में पड़े पाकिस्तानी खलल का नमूना पता चलता है। इमरान खान ने नवजोत सिद्दू को हिंदुस्तान का भावी प्रधानमंत्री बताते हुए हवा छकाकर एक तीर से दो शिकार किए हैं । एक तो इमरान खान ने इशारों इशारों में कश्मीरी आतंकियों को चेताया है कि नवजोत सिंह सिद्दू इतना ताकतवर है कि कश्मीर के सिलसिले में उनका मददगार साबित हो सकता है, और इसी साजिश के तहत आतंकवादी गोपाल सिंह चावला को सिद्धू के साथ साए की तरह लगाया गया। दूसरा इस तरह के बयान से इमरान खान सिद्धू के दिमाग में फूट के बीज बोने में इस कदर कामयाब हुआ है कि नवजोत सिंह सिद्धू अपने सीनियर नेता और अपने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को मजाक के लहजे में हल्के ढंग से लेने लगा है,जिन कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट में नवजोत सिंह सिद्धू एक अदना सा मंत्री है। इस तरह की बचकानी हरकतें नवजोत सिंह सिद्धू के राजनीतिक भविष्य के लिए संकट खड़ा कर सकती हैं। इमरान खान के पाकिस्तानी मंच से नवजोत सिंह सिद्धू के लिए ऐसा माहौल बना दिया गया और कुछ ऐसी तस्वीरों का प्रसारण हुआ जिस से लोगों में इस बात का प्रचार शुरू हुआ कि सिद्धू के पाकिस्तान की आर्मी के साथ और गोपाल सिंह चावला जैसे लोगों के साथ गुप्त और गहरे संबंध हैं। इस बात ने अमन पसन्द हिंदुस्तानियों को एक प्रकार के डर और घबराहट में डाल दिया है ।दूसरी तरफ इमरान खान द्वारा नवजोत सिद्धू के गैसी गुबारे में भरी गई हाइड्रोजन के कारण फुलावट में आते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह का कद छोटा करने के लिए उल्टी-सीधी मजाकिया जोकर जैसी ऐसी हरकतें करनी शुरू कर दी हैं लेकिन ऐसी बातों से नवजोत सिंह सिद्धू की खुद की ही छवि धूमिल हो रही है और लोग थू थू करने लगे हैं । जिस तरह कैप्टन अमरिंदर सिंह का मिजाज है उसको देखते हुए लगता नहीं कि कैप्टन अमरिंदर सिंह इन बातों को हल्के ढंग से लेंगे अगर कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू की हैसियत को तोला जाए तो यह बात आराम से कही जा सकती है कि कहां राजा भोज और कहां गंगू तेली। आम लोगों का कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू को महाराजा अमरिंदर सिंह जैसे खानदानी और नेक इंसान के बारे में मुंह मारने से पहले हजार बार सोचना चाहिए। नवजोत सिंह सिद्धू को इस बात का इल्म होना चाहिए कि जिंदगी में हर जगह लाफ्टर चैलेंज की स्टेज नहीं चलती और पंजाब की सियासत कपिल शर्मा का कॉमेडी नाइट्स नहीं जहां से सिद्धू मसखरेपन में बेवजह फूहड़ ठहाके लगाते हुए, बेतुकी बातें करके लोगों को हंसाने की कोशिश करता है। 


Hit Counter provided by laptop reviews