बम फेंकू अवतार सिंह दबोच लिया पंजाब पुलिस ने

राजासांसी के पास गांव अदलीवाल में निरंकारी भवन में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड अवतार सिंह निवासी गांव चक्क मिश्री खां पंजाब पुलिस के हत्थे चढ़ गया है।


देहाती पुलिस और काऊंटर इंटेलिजेंस के ज्वाइंट आप्रेशन के दौरान अवतार सिंह को सीमावर्ती एक गांव से गिरफ्तार किया गया। उससे कस्बा मजीठा के पास एक बाग से हथियारों का जखीरा बरामद किया गया है। बरामद हथियार विदेशी हैं। इन हथियारों से आने वाले दिनों में पंजाब को दहलाने की पूरी तैयारी थी। पुलिस द्वारा अवतार सिंह की गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की जा रही।

सूत्रों के अनुसार अवतार सिंह से पूछताछ के आधार पर कई और लोगों की गिरफ्तारी की जा रही है। अवतार सिंह की गिरफ्तारी का पुलिस प्रैस कांफ्रैंस के दौरान खुलासा करते हुए  डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने  कहा कि वारदात में फरार आरोपी अवतार सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही हमले के पीछे इटली और दुबई का कनेक्शन सामने आया है। डीजीपी ने कहा कि विदेशों में बैठे लोगों ने लोकल युवाओं को शह दी। बम धमाके में पकड़े गए दोनों आरोपियों का इससे पहले कोई अपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। बम धमाके में दुबई में रह रहा जाबेद और इटली में रहे परमजीत सिंह बाबा का नाम सामने आया है।

दसवीं फेल पत्रकार की अकल का जनाजा निकला डी जी पी की प्रेस कांफ्रेंस में

चंडीगढ़-( चाचा चंडाल सिंह खालिसहिन्दुस्तानी ) प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक दसवीं फेल पत्रकार ने इस बात पर जोर देना शुरू कर दिया कि बम फेंकने वाले मोने थे तो मजबूरी में डी जी पी श्री सुरेश अरोड़ा ने उसको प्रोफेशनल बंनने की नसीहत दे डाली . ये अधपढ़ पत्रकार फिर भी इसी बात को लेकर कायं कायं करता रहा . लग रहा था जैसे इसे बम धमाके के मुजरिमों के पकडे जाने का गहरा सदमा पहुंचा हो . बताया जाता है कि पहले भी कई बार पुलिस के चाय पकौड़े अत्यधिक मात्रा में खा कर इस पत्रकार के दिमाग के कुत्ते फेल हो जाने के असार नजर आने लगते हैं क्यूंकि इसको नमक हज़म ही नहीं होता.

निरंकारी भवन में ग्रेनेड फेंकने वाले दूसरे आतंकी अवतार सिंह को इंटेलिजेंस की टीम ने शुक्रवार को अरेस्ट कर पंजाब पुलिस के हवाले कर दिया था । 18 नवंबर को हुए हमले में 3 तीन लोगों की मौत हो गई थी और 21 से ज्यादा जख्मी हुए थे। वहीं पूछताछ के लिए पकड़े गए दो युवाओं को शुक्रवार देर रात छोड़ दिया गया।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस ने अवतार के पास भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए गए हैं। इससे पहले एक आतंकी बिक्रमजीत सिंह को गिरफ्तार किया गया था। मुख्यमंत्री अमरिंदर ने कहा था कि हमले के पीछे कोई धार्मिक एंगल नहीं है। यह पूरी तरह से आतंकी वारदात है।

कैसे किया था हमला : अमृतसर एयरपोर्ट से मात्र तीन किलोमीटर दूर राजासांसी में सत्संग भवन पर रविवार को ग्रेनेड से हमला किया गया था। काले रंग की बिना नंबर पल्सर पर सवार दो नकाबपोश भवन में घुसे और स्टेज पर बैठे लोगों की तरफ ग्रेनेड फेंककर भाग निकले। उस वक्त सत्संग में करीब 200 लोग मौजूद थे। हमले में तीन लोगों की मौत हो गई। इनमें 17 साल का संदीप भी शामिल था। वहीं, 21 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए।

ग्रेनेड पाकिस्तानी ऑर्डिनेंस फैक्टरी में बना था .आतंकी हमले में इस्तेमाल हैंड ग्रेनेड पाकिस्तानी आर्मी ऑर्डिनेंस फैक्टरी में बना था। इस एचजी-84 ग्रेनेड का इस्तेमाल पाक आर्मी करती है।  हमले के पीछे पाकिस्तानी एजेंसियां और वहां बैठे खालिस्तानी समर्थक आतंकियों का हाथ  है। आईएसआई से मदद पाने वाले खालिस्तानी या कश्मीरी टेररिस्ट ग्रुप का मकसद इस तरह का हमला कर आतंक फैलाना है। 31 अक्टूबर को पटियाला से पकड़े गए खालिस्तान गदर फोर्स के आतंकी शबनमदीप से भी ऐसा ही ग्रेनेड मिला था।” अब अवतार सिंह की मनोवाज्ञानिक पूछताछ से कई और लोगों के नाम भी सामने आ सकते हैं .

a


Hit Counter provided by laptop reviews