सैक्स के लिए रखे हुए थे कोड

sex code लड़के के लिए लड्डू लड़की के लिए जलेबी 

सैक्स के लिए रखे हुए थे कोड

REPORT : Parveen Komal
REPORT : Parveen Komal
sex code लड़के के लिए लड्डू लड़की के लिए जलेबी
पंजाब के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री श्री सुरजीत कुमार ज्याणी ने बताया कि
कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए पंजाब सरकार की तरफ से सख्त कदम उठाए जा रहे हैं और
लिंग अनुपात दर को घटाने के लिए नई पहलकदमी की है और पंजाब सरकार लड़कियों को बचाने के लिए वचनबद्ध है।
इसके चलते ही स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग की तरफ से भ्रूण हत्या पर लगाम कसने के लिए
हायर की गई जासूसी एजेंसी की मदद से गत रात्रि जिला एसबीएस नगर में दूसरा सफल स्टिंग आप्रेशन किया गया,
जिस के बाद प्री-कंसैप्शन एंड प्री-नैटल डायगनोसिटक टैकनीक एक्ट (पीसीपीएनडीटी) अवमानना करने वाले
स्कैनिंग सैंटर बलाचौर के पांच डाक्टरों के खिलाफ पुलिस द्वारा मामला दर्ज कर लिया गया है।

इस तरह का यह दूसरा स्टिंग आप्रेशन जासूस एजेंसी की तरफ से किया गया है।

इस जासूस एजेंसी को कुछ दिन पहले ही पंजाब सरकार ने गैर सामाजिक तत्वों की तरफ से
नई तकनीक के गलत इस्तेमाल के साथ लिंग निर्धारण टैस्ट करने वालों के खिलाफ जानकारी हासिल करने के लिए हायर किया है।

स्वास्थ्य विभाग का पांच दिनों में  दूसरा स्टिंग आप्रेशन

इसी प्रकार का पहला मामला कुछ दिन पहले छेहरटा (अमृतसर) के भारत अस्पताल की महिला डाक्टर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।
जहां पर भी टीम ने डिकोय को भेजकर लिंग निर्धारण की जांच करने वालों का पर्दाफाश किया था।
श्री सुरजीत ज्याणी ने बताया कि जासूसी एजेंसी की तरफ से दी गई खुफिया जानकारी के आधार पर
स्वास्थ्य विभाग की तरफ से एक डिकोय (महिला) को लिंग निर्धारण टैस्ट करवाने के लिए
जिला एसबीएस नगर के बलाचौर में स्थित सूरी स्कैन सैंटर में भेजा गया, जहां पर स्कैनिंग सैंटर द्वारा इस गैर कानूनी टैस्ट के लिए 20000 रुपए की रकम तैय की गई।
इस उपरंत महिला का स्कैनिंग सैंटर के डाक्टरों की तरफ से स्कैन कर दिया गया और उसे लड्डू के साथ खुशियां मनाने का इशारा भी दे दिया गया।
इसके बाद छापामारी टीम मौके पर पहुंच गई और उक्त डाक्टर को 20000  रुपए के साथ रंगे हाथों पकड़ लिया।
यह डाकटर  अल्ट्रासाउंड करने के लिए रजिस्ट्रड ही नहीं थे।
छापामारी टीम ने सब डिवीजनल की अथार्टी की तरफ से स्कैनिंग सैंटर को सील कर दिया ।

स्कैनिंग सैंटर वाले ने लड्डू बांटने की तैयारी करने को कहा तो स्वास्थ्य विभाग ने दबोचा

सुत्रों के अनुसार स्कैनिंग सैंटर वालों ने कोड तैयार रखे हैं कि अगर लडक़ा हुआ तो लड्डू बांटने को कहते हैं और लडक़ी हुई तों जलेबी बांटने को कहते हैं।
स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती विनी महाजन ने बताया कि
डायरैक्टर फैमिली वैल्फेयर डा. ऊषा बांसल की सुपरविजन में एसबीएस नगर की सिवल सर्जन डा. मनिंदर मिनहास की अध्यक्षता में
टीम को सूरी स्कैनिंग सैंटर में धरपकड़ करने के लिए भेजा गया।
टीम में ई.एसडीएच बलाचौर के सीनियर मैडीकल अफसर डा. सुनिल पाठक, तहसीलदार बलाचौर
और डिप्टी सुपरीटैंडैंट आफ पुलिस बलाचौर और थाना प्रभारी गुरमुख सिंह बलाचौर शामिल थे।
प्रमुख सचिव बताया ने कि कुछ दिनों पहले ही पीसी-पीएनडीटी एक्ट की अवहेलना करने वालों पर कड़ी नजर रखने के लिए
प्रोफैशनल जासूस (डिटैक्टिव) एजेंसी हायर की गई हैं।
पिछले पांच दिनों में यह दूसरा सफल आप्रेशन किया गया है।
उन्होंने कहा कि जासूसी एजेंसी की मदद से स्वास्थ्य अधिकारियों की तरफ से राज्य भर में
लिंग निर्धारण टैस्ट करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है और पीसी-पीएनडीटी एक्ट की अवमानना करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। इसे भविष्य में भी जारी रखा जाएगा।

Hit Counter provided by laptop reviews