चम्बल का डाकू और बनारस का ठग कहा सिद्धु ने मजीठीया को

IMG-20170329-WA0013
पंजाब विधान सभा चंडीगढ़ से परवीन कोमल

तुम बनारस के ठग और चम्बल के डाकू हो

तुम बनारस के ठग और चम्बल के डाकू हो पंजाब विधान सभा में

विक्रम सिंह मजीठीया द्वारा ऊंचे स्वर लगाने पर

नवजोत सिद्धु ने मजीठीया को जम कर लताड़ा।

सिद्धु ने मजीठीया को कहा कि ” तुम बनारस के ठग और चम्बल के डाकू हो”।

सिद्धु ने यहां तक कह डाला कि तुम्हारी तरह हमारी सरकार ने चिट्टा नहीं बेचा ।

जब मजीठीया ने चिल्ला कर जबाव देना चाहा तो सिद्धु ने कहा ,

चीकां ना मार मित्तरा , ऐसे कारण तुहनु लोकां ने एधर बिठा दित्ता ।

सदन में स्थिति उस वक्त काफी विकट हो गई जब लोक इन्साफ पार्टी के

बैंस भइया (ब्रदर्स) अपनी सीट छोड़ कर फ्रंट सीटों पर काबिज हो गए ।

स्पीकर के बार बार कहने पर भी बैंस अड़े रहे और अभद्र तरीके से स्पीकर की और उंगलियों से इशारे करते रहे ।

बाद में फूलकां और खैहरा को छोड़कर आम आदमी पार्टी के विधायक वैली में जमीन पर बैठ गए

लेकिन खैहरा अपनी सीट पर खड़े रहे

और फुल्का अपनी सीट पर बैठे रहे । नवजोत सिद्धु ने खैहरा को ताना मारा कि

आपके लीडर तो आपके साथ फर्श पर नहीं बैठे और आपसे सहमत नहीं ।

राजा बडिंग ने भी मौके पर चौका मारते हुए स्पीकर से मांग कर डाली कि अगर भैंस अपनी अलाट की हुई सीट पर नहीं बैठते

तो उन्हें भी मुख्य मंत्री के साथ वाली सीट पर राय मशविरा करने के लिए बैठने की इजाजत दी जाये ।

स्पीकर बार बार अपोजिशन को नर्म सुर में समझाते रहे लेकिन बैंस भाई और आम आदमी पार्टी ” को ना मानूँ ” पर अड़े रहे ।

आखिर सभी रेजुलेशन पास होने पर विधान सभा को अगले सेशन तक स्थगित कर दिया गया ।


Hit Counter provided by laptop reviews