औरत का शरीर उसका मंदिर, इसलिए रेप मामलों में समझौता नहीं

देश भर में बढ़ रहे बलात्कार के मामलों पर चिंता

देश भर में बढ़ रहे बलात्कार के मामलों

पर चिंता   Made during Gangrep MMSदेश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया ने

देश भर में बढ़ रहे बलात्कार के मामलों पर चिंता जताते हुए

अपना अहम फैसला सुनाया था ।

सुप्रीम कोर्ट ने रेप पीडिताओं के मामले में समझौते को लेकर कड़ा

रुख अपनाते हुए इसे गलत बताया था ।

कोर्ट ने साफ किया था कि रेप पीड़िताओं के विवाह पर कोई समझौता नहीं किया जा सकता।

कोर्ट ने निचली अदालत के एक फैसले को चुनौती देने वाली मध्य

प्रदेश सरकार की याचिका स्वीकार करते हुए अपना अहम फैसला सुनाया

और कहा कि दुष्कर्म के आरोपी और पीडिता के बीच विवाह के नाम पर समझौता वास्तविकता में महिला का अपमान है।

कोर्ट ने कहा कि महिला का शरीर उसके लिएमंदिर है। ऐसे में रेप आरोपी के साथ उनकी शादी करवाना उसका अपमान है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मुद्दे पर वह उदार रवैया नहीं अपना सकता।

कोर्ट ने ये भी कहा कि महिला का शरीर उसके लिए मंदिर है।

ऐसे में रेप आरोपी के साथ उनकी शादी करवाना उसका अपमान है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मुद्दे पर वह उदार रवैया नहीं अपना सकता।


Hit Counter provided by laptop reviews